Posts Slider

August 19, 2022

Common View

सच के साथ

बिहार: प्रदेश के इस जिले में प्लेटफॉर्म पर छात्र करते हैं प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी, स्टेशन पर पढ़कर कई छात्रों ने ली है सरकारी नौकरियां.

रिपोर्ट: सुधा कुमारी- 

बिहार के सासाराम के रेलवे प्लेटफार्म पर रेलवे की रोशनी में पढ़ाई करने वाले प्रतिभागी छात्रों के लिए नये साल में अच्छे दिन आने वाले हैं. इसकी शुरुआत मुगलसराय मंडल के मंडल रेल प्रबंधक पंकज सक्सेना ने कर दी है. गौरतलब है कि सासाराम का रेलवे प्लेटफार्म, प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं छात्रों से काफी चर्चित हो रहा है . जिन्हें प्लेटफॉर्म वाले छात्र के नाम से भी जाना जाने लगा है. तकरीबन एक डेढ़ दशक पहले से सासाराम में रह कर तैयारी करने वाले बच्चे बिजली के अभाव में अपने घरों में ना पढ़कर रेलवे प्लेटफार्म पर लगे लाइट में पढ़ना शुरू कर दिया था. देखते ही देखते प्लेटफॉर्म पर पढ़ने वालों की संख्या बढ़ती गई और आज तकरीबन 10 से 12 ग्रुप बनाकर 300 से 400 बच्चे प्रतिदिन प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी करते हैं. जिनमें से अब तक 500 से ऊपर छात्रों ने विभिन्न सरकारी विभागों में नौकरी हासिल कर ली है.

पिछले दिनों सासाराम के दौरे पर आए मंडल रेल प्रबंधक पंकज सक्सेना को जब इसकी जानकारी मिली तो उन्होंने स्थानीय अधिकारियों से इसकी जानकारी ली और छात्रों की उपलब्धियों से भी रूबरू हुए. इस बात की पूरी जानकारी के लिए सक्सेना ने जनसंपर्क निरीक्षण गिरीश कुमार सिंह को सासाराम भेजा और इसकी रिपोर्ट बनाकर सौंपने को कहा. वहीं निरीक्षक के रूप में आए गिरीश कुमार सिंह ने कहा कि प्लेटफॉर्म पर प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं छात्रों से मिल कर वस्तु स्थिति से अवगत हुए और जल्द ही इसकी रिपोर्ट मंडल रेल प्रबंधक को सौंप दी जाएगी. बताते चलें कि छात्रों की लगन और मेहनत को देखते हुए रेलवे प्रशासन इन सभी छात्रों का हर संभव मदद करती है. वही रेल प्रशासन ने सभी छात्रों के लिए पहचान पत्र भी निर्गत कर दिया है.